Lupus क्या है? इसके बारे में सब कुछ जाने.

HealthLeave a Comment on Lupus क्या है? इसके बारे में सब कुछ जाने.

Lupus क्या है? इसके बारे में सब कुछ जाने.

Lupus एक पुरानी autoimmune बीमारी है जो पूरी body में सूजन का कारण बनती है. ऑटोइम्यून बीमारी ऐसी condition है जिसमे आपकी शरीर की प्रातिरक्षा प्रणाली अपनी खुद की कोशिकाओ के टूटने और सूजन का कारण बनतीं है.

Lupus

लुपस में देखि जाने वाली सूजन आपके शरीर के अलग अलग tissues और पार्ट्स को प्रभावित कर सकती है जिसमे

  • जोड़(joints)
  • त्वचा
  • ह्रदय
  • खून
  • फेफड़े
  • दिमाग
  • गुर्दे

आदि अंग सम्मिलित है.      

ये बीमारी गंभीर और possible way में जानलेवा साबित हो सकती है. ये permanent organ damage का कारन बन सकता है. अभी वर्तमान में इसका कोई ईलाज नहीं है.

लुपस के क्या कारण है?

अभी डॉक्टर्स भी ये नहीं जानते है की इसके obvious reason क्या है लेकिन उन्हें ऐसा लगता है की ये अंतर्निहित कारको का एक कॉम्बिनेशन है जिसमे शामिल है :

पर्यावरण

 डॉक्टर्स ने संभावित लुपस कारणों के रूप में धूम्रपान, तनाव व विषाक्त पदार्थो के संपर्क  में संभावित trigers की पहचान की है.

Genetic (आनुवंशिक)

परिवार में किसी का लुपस बीमारी की history होतो अन्य व्यक्ति के लिए उस बीमारी का होना संभव हो जाता है.

ये भी पढ़े – FLU क्या है

ये भी पढ़े – Heartburn (सीने की जलन)

होर्मोन

कुछ अध्ययनों से पता चला है की unusual hormon होर्मोन का स्तर, जैसे की एस्ट्रोजन का स्टार बढ़ा हुआ लुपस में योगदान कर सकता है.

संक्रमण

 डॉक्टर अभी भी साइटोमेगालोवायरस, एपस्टीन-बार और हेपेटाइटिस C और लुपस के कारणों जैसे इन्फेक्शन के बीच के लिंक की study कर रहे है.

दवाए.

 कुछ दवाओ के लम्बे समय तक उपयोग जैसे की

दवाए

Hydralazine(apresoline),procainamide(procanbid) और quinidine, को ड्रग-प्रेरित lupus एरिथेमेटेसस के रूप में जाना जाने वाले एक वृक्ष के रूप में जोड़ा गया है.

ये भी पढ़े – Cholesterol

Lupus के लक्षण क्या है?

Lupus के लक्षण शरीर के प्रभावित भागो के अनुसार अलग अलग होते है। इसके लक्षण कभी गायब भी हो सकते है ओर वे कभी permanent भी हो सकते है. लुपस के सबसे आम लक्षण ओर संकेत शामिल है:

  • बुखार
  • थकान
  • शरीर मे दर्द
  • जोड़ो मे दर्द
  • Face पर butterfly की तरह दाने हो जाना
  • चकते होना
  • त्वचा की क्षति
  • सिरदर्द
  • उलझन
  • मेमोरी की हानी

लुपस के कुछ बाद के लक्षणो मे नेफ्रेटिस नामक सूजन के कारण kidney की problem होती है जिसकी वजह से high blood pressure, गहरे रंग का पेशाब ओर मूत्र मे खून भी आ सकता है।

ये भी पढ़े – Flu क्या है?

लुपस के लिए जोखिम कारक क्या है?

लुपस के जोखिम करको के उदाहरण :

  • एक महिला होना
  • 15 से 44 वर्ष के बीच की आयु
  • Lupus का पारिवारिक इतिहास होना

लुपुस के प्रकार

Doctors के अनुसार lupus 4 प्रकार का होता है.

Systemetic Lupus erythemetosus

 ये lupus का सबसे आम प्रकार है। ये स्थिति हलके से गंभीर हो सकती है। स्थिति लक्षण के कारण होती है जो time के साथ खराब हो सकती है ओर बाद मे improvement भी हो सकता है.

Cutaneous lupus

 ये एक प्रकार के पेड़ की तरह होता है जो आपकी skin तक सीमित है. इससे चेहरे पर चकते ही चकते बन जाते है ओर ये permanet होते है। इसे discoid लुपस कहते है

Dile

Doctors के द्वारा prescribe कुछ दवाओ के निरंतर उपयोग से दावा प्रेरित lupus हो सकता है। 

Neonatal lupus

 ये स्थिति बहुत rare होती है ओर ये उन शिशुओ को प्रभावित करती है जिनकी mothers को लुपस हुआ हो। इस condition मे स्किन पर लाल चकते ओर कम blood cells हो सकते है ओर कुछ शिशुओ मे दिल की समस्या हो सकती है.

Lupus Treatment Recommendation क्या है?

इस वक़्त तक लुपस का कोई इलाज नहीं है लेकिन कुछ दवाओ से इसके लक्षणो को control किया जा सकता है।

  • Nonsteriodal anti-infalammatory drugs(एनएसएआईडी)
  • Antimalarial medication
  • DHEA, एक पुरुष होर्मोन है जो लुपस के कुछ प्रभावों को कम कर सकता है जैसे बालो का झड़ना
  • Corticosteroid
  • Immunosuppressive ड्रग्स

जब डॉक्टर लुपस उपचारो की सिफ़ारिश करते समय लुपस के लक्षणो पर विचार करेगा तो वो आपको lifestyle changes की सलाह भी दे सकता है जैसे की अधिक ultraviolet sunlight से बचना क्योंकि धूप मे आपके चकते (wound)घाव का रूप ले सकते है.

कुछ लोग लुपस के लक्षणो को कम करने के लिए अपनी दवाओ मे supplement एडिशन करके लेते है। इस्न supplement के उदाहरण मे फ़्लेक्स सीड्स, मछ्ली का तेल ओर विटामिन D शामिल है.

Lupas के बचाव के उपाय

Direct सूर्य के प्रकाश से बचना

 ज्यादा धूप मे बाहर जाने से स्किन पर लुपस के दाने हो जाते है इसलिए बाहर जाते समय sunscreen लगाना चाहिए। extreme sun light से बचे जो सुबह 10 बजे से दिन के 4 बजे तक रहती है.

Stress management तकनीकों का अभ्यास करना

 इसमे ध्यान, योग या मालिश स्घामिल है जो जब भी व्यक्ति को संभव हो stress से relief देने के लिए.

Septicity(संक्रमण) की रोकथाम तकनीकों का अभ्यास करना

 इसमे बार बार हाथ धोन ओर संक्रमित लोगो से बचना शामिल है

आराम करना

Rest करना व्यक्ति के शरीर को सही करने मे मददगार है.

लुपस के लिए आहार

 लुपस के साथ शरीर मे सूजन को कम करने के अन्य healthy steps मे शामिल है:

  • ओमेगा 3 fatty acids मे मछ्ली सबसे ऊपर है जैसे की टूना, सालमोन आदि
  • Calcium मे उच्च खाद्य पदार्थ जैसे Low fat dairy product
  • सभी carbohydrate अनाज स्त्रोत खाना
  • Colorful fruits and vegetables खाना.
Acchi Sehat
hey, this is ikram hussain. He has a very deep intrest in Health and Fitness topics.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top