Golden milk के 10 फायदे और कैसे बनाते है.

Health3 Comments on Golden milk के 10 फायदे और कैसे बनाते है.

Golden milk के 10 फायदे और कैसे बनाते है.

Golden milk भारत का traditional drink है जिसे लोग हल्दी के साथ बनाते है.जिससे ये पीला या सुनहरे रंग का बन जाता है. लोग इसे हल्दी वाला दूध भी कहते है.

इसको prepare करने लिए हल्दी, दालचीनी, अदरक व अन्य मसालों को दूध के साथ गर्म करना चाहिए. इन मसालों में कई antioxidants होते है.

आगे इसके फायदे व इसको बनाने का तरीका जाने.

Golden Milk के फायदे.

1. सूजन को कम करना.

Golden milk के ingredients अदरक, हल्दी व दालचीनी होते है.इसमें विरोधी भड़काऊ गुण होते है. हल्दी वाला दूध swelling को कम करने व घाव को ठीक करने व स्थितियों को रोकने में मदद करता है जेसे की

पैरो की soojan
  • दिल की बीमारी
  • कैंसर
  • गठिया(गाँठ)
  • अल्जाइमर रोग
  • उपापचयी लक्षण

शरीरके किसी हिस्से में सूजन होतो 1 glass हल्दी वाला दूध अपने नियमित आहार में उस सूजन को कम कर सकता है.

उदहारण के लिए, 45 participants(प्रतिभागी) के अध्यन से पता चला है के सूजन को कम करने लिए 500 मिलीग्राम करक्युमिन का सेवन 50 मिलीग्राम आम गाठिया की दावा लेने के बराबर है. करक्युमिन हल्दी में सक्रिय घटक है.

2. Cell damage को रोकना-

करक्युमिन में एंटीओक्सीडेंट गुण होते है. अध्यन से पता चला है के एंटीओक्सीडेंट शरीर में हुए damge cells को repair करने में मदद कर सकते है और कई बीमारियों से होने वाले जोखिम को कम कर सकते है.

for example, 2015 की research में पता चला है की खाद्य पदार्थ व मसालों में एंटीओक्सीडेंट गुण cell damage को कम करने पर positive effect देता है.

ये भी पढ़े ALS बीमारी

3. मूड में सुधार

ये suggestion देने के लिए evidence की करक्युमिन उन लोगो के मूड को बेहतर बनाने में मददगार हो सकती है जो लोग इसका नियमित(daily) रूप से सेवन कर रहे हो.

60 participants की एक छोटी सी study से पता चला है के करक्युमिन के intake से डिप्रेसिव आर्डर वाले लोगो में लक्षण कम होने में मदद मिली है. circumin और antidepressent दोनों दवाओ को लेने वालो में महत्वपूर्ण improvement देखे गए है.

इसकी प्रभाविकता और सही खुराक निर्धारित करने के लिए और ज्यादा research आवश्यक है क्योंकि स्टडीज में ये भी बताया गया हैं की result सांख्यकीय तोर पर महत्वपूर्ण नहीं थे.

4. Brain system support व memory improve

कुछ पुरानी studies ने suggestion दिया है की हल्दी(turmeric) मस्तिष्क के कार्यो को बेहतर बनाने में मदद कर सकती है.

investigation से पता चला है की पार्किन्सन रोग से सम्बंधित विशिष्ट प्रोटीन के संरक्षण पर दालचीनी के प्रभाव को देखा गया है. प्रोटीन इन लक्षणों के against में Protective है. जेसे की मेमोरी लोस और कंपकंपी.

study में promising result सामने आये है लेकिन मस्तिष्क सुधार के लिए दालचीनी(cinnamon) कितनी प्रभावी है ये पूरी तरह दिखाने के लिए मानव में अध्यन आवश्यक है

5. ह्रदय रोग की रोकथाम

Golden milk में 3 प्रमुख सामग्रियों ने ह्रदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद की है. एक छोटे से अध्यन से पता चला है की करक्युमिनोइड लेने वालो में coronary artery bypass surgery के बाद दिल का दौरा पड़ने जेसी myocardial infarction के incident कम हो गए थे. जो हमारे दिल के लिए अच्छा है.

6. कैंसर का खतरा कम करता है

older study बताती है की दालचीनी, अदरक व करक्यूमिन से कैंसर के खतरे कम हो सकते है.

ये Possibility नहीं है के हल्दी वाले दूध में मसालों की थोड़ी मात्रा का कैंसर के खतरे पर असर होगा. हालाँकि fixed result खोजने के लिए अधिक शोद की आवशकता है.

7. Blood sugar level कम करना

golden milk में मोजूद तत्व ब्लड शुगर को कम करने में मदद करती है. अदरक का सेवन type 2 मधुमेह वाले लोगो में तेजी से blood sugar कम करने में कारगर साबित हुआ है.

2017 के double blind placebo controlled trial ने भी इन परिणामो को Support किया है. scientist ने 50 प्रतिभागियों को type 2 मधुमेह के दो भागो में devide कर दिया. 1 group ने 10 सप्ताह के लिए हर रोज 2000 मिलीग्राम अदरक लिया व दूसरे समूह ने प्लेसिबो लिया.

trial के end में researchers ने पाया की अदरक ने प्रतिभागियों के blood sugar level को काफी कम कर दिया है.

8. प्रतिरक्षा प्रणाली(immune system) को बढ़ावा देना.

लोग normal बीमारियों जेसे ठण्ड से लड़ने में मदद के लियें golden milk का use करते है.

circumin में antibacterial, antiviral व antifungal गुण होते है जो किसी व्यक्ति को संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते है.

अदरक व दालचीनी सर्दी व जुकाम के लिए घरेलु उपचार है

9. Bone health में सुधार.

हड्डियों में ताक़त लाने के लिए

कई enriched plant based दूध में vitamin D और calcium होता है जो bone health के लिए काफी फायदेमंद होता है. हड्डियों के स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए calcium आवश्यक पोषक तत्व है. Vitamin D शरीर को खाद्य पदार्थो से calcium को absorb करने में मदद करता है.

10. पाचन क्रिया सुधारता है.

हल्दी वाले दूध में मोजूद अदरक पाचन में सहायता करता है, ginger मतली व उलटी के लिए आम घरेलु उपाय है. research ने कीमोथेरेपी मतली वाले लोगो में लक्षण को करने के लिए अदरक इफेक्टिव माना है.

इसे कैसे बनाते है?

आजकल golden milk online available है, health stores व grocery stores में. हालाँकि हम इसको घर पर Easily ready कर सकते है.

  • ½(आधा) कप दूध ले
  • 1 teaspoon हल्दी पाउडर
  • ½ teaspoon अदरक पाउडर
  • ½ teaspoon पीसी hui दालचीनी
  • 1 चुटकी पीसी हुई काली मिर्च
  • 1 चम्मच शहद

एक बर्तन में इन सभी चीजो को मिलाये और उबाल ले फिर बाल को कम आंच पर रखे लगभग 10 minute जब तक इसमें से खुशबू न आये. फिर उन मसालों को निकलने के लिए महीन sieve(छलनी) का प्रयोग करे.

Golden milk के कई health benefit हो सकते है और इसमें कुछ risk भी हो सकते है,जब तक की इसके ingredients से किसी को allergy न हो.

जो लोग इसे बनाना चाहते है वो इसे घर पर बना सकते है या इसका premade mixture market से खरीद सकते है.

इसके काफी फायदे हो सकते है लेकिन ये medical treatment को replace नहीं कर सकता.

Acchi Sehat
hey, this is ikram hussain. He has a very deep intrest in Health and Fitness topics.

3 thoughts on “Golden milk के 10 फायदे और कैसे बनाते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top